आयुर्वेद टूरिज्म को बढ़ावा देने के प्रयास - मंत्री डॉ. साधौ

चिकित्सा शिक्षा, आयुष और संस्कृति मंत्री डॉ. विजयलक्ष्मी साधौ ने ग्वालियर में स्वशासी आयुर्वेद महाविद्यालय एवं चिकित्सालय की साधारण सभा तथा शासकीय गजराराजा चिकित्सा महाविद्यालय की सामान्य परिषद की बैठक में भाग लिया। उन्होंने चिकित्सकों से कहा कि आपका पेशा संवेदनशील है, मानव सेवा से जुड़ा है, इसलिये आम आदमी को ऐसी सेवाएँ दें, जिससे लोग आपको हमेशा याद रख सकें।


मंत्री डॉ. साधौ ने कहा कि आयुर्वेद को मेडिकल टूरिज्म के रूप मे विकसित करने की दिशा में प्रयास शुरू किए गए हैं। इसके अन्तर्गत पर्यटन स्थलों पर पंचकर्म, सिरोधारि जेसे आयुर्वेद उपचार की सुविधाएँ पर्यटकों को उपलब्ध कराई जायेंगी। उन्होंने कहा कि आयुवेर्दिक उपचार की इन पद्धतियों का जिला स्तर तक विस्तार किया जायेगा।


मंत्री डॉ. विजयलक्ष्मी साधौ ने शासकीय गजराराजा चिकित्सा महाविद्यालय की सामान्य परिषद की बैठक में निर्देश दिए की चिकित्सालय में अल्ट्रा सोनोग्राफिक मशीन, वेंटिलेटर और अन्य आवश्यक उपकरण लगाये जायें। महाविद्यालय स्वशासी होने के नाते आय के अपने स्त्रोत भी विकसित करे। डॉ. साधौ ने आयुर्वेद महाविद्यालय एवं चिकित्सालय की साधारण सभा की बैठक में कहा कि महाविद्यालय परिसर में ऑडिटोरियम एवं चिकित्सालय में ओ.पी.डी. ब्लॉक के निर्माण का प्रस्ताव बनाएं।