फसल ऋण माफी से बढ़ी है किसानों की क्रय शक्ति - मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ

मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ ने इंदौर के राऊ क्षेत्र में किसानों को फसल ऋण माफी प्रमाण-पत्र सौंपते हुए कहा कि ऋण माफी से किसानों की क्रय शक्ति बढ़ी है। उन्होंने कहा कि कृषि क्षेत्र भी आर्थिक गतिविधियाँ बढ़ाता है। श्री कमल नाथ ने बताया कि राज्य सरकार कृषि क्षेत्र में नई क्रांति लाने की दिशा में आगे बढ़ रही है।


मुख्यमंत्री ने कार्यक्रम में 900 करोड़ से अधिक लागत के विकास और निर्माण कार्यों का लोकार्पण तथा शिलान्यास किया। साथ ही, किसानों के लिये खेती-किसानी पर आधारित शुभ-लाभ खेत कुंडली एप का शुभारंभ किया और दो किसानों को डीबीटी योजना में अनुदान पर ट्रेक्टर की चाबी सौंपी।


अब माफिया से नहीं होगी प्रदेश की पहचान


मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश की पहचान अब माफिया से नहीं होगी। माफिया के विरुद्ध अभियान निरंतर जारी रहेगा। हम किसानों, नौजवानों तथा प्रदेश की जनता का भविष्य उज्जवल बनाकर प्रदेश की पहचान बदलेंगे। उन्होंने कहा कि इंदौर में मेट्रो का काम तेज गति से चलेगा, यह निवेश का एक बड़ा माध्यम है। इस प्रोजेक्ट से यहाँ के युवाओं और अन्य नागरिकों को काम मिलेगा। आर्थिक गतिविधियाँ बढ़ने से विकास की संभावनाएँ भी बढ़ेंगी।


आर्थिक गतिविधियाँ बढ़ाकर दूर की जायेगी बेरोजगारी


मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश के नौजवानों की सोच और नजरिया अलग है। उनके हाथों को काम करने की तड़प है। हम नौजवानों के हाथों को मजबूत करेंगे। प्रदेश में आर्थिक गतिविधियाँ बढ़ाकर नौजवानों की बेरोजगारी दूर की जायेगी।


उच्च शिक्षा तथा युवा कल्याण मंत्री श्री जीतू पटवारी और गृह एवं जेल मंत्री श्री बाला बच्चन ने भी कार्यक्रम को संबोधित किया।


इस अवसर पर विधायक श्री विशाल पटेल, श्री कुणाल चौधरी, अन्य जन-प्रतिनिधि, गणमान्य नागरिक तथा बड़ी संख्या में स्थानीय लोग उपस्थित थे।