कलमनाथ के इस्तीफे के बाद उनके घर जाकर शिवराज सिंह चौहान ने की मुलाकात


शुक्रवार को कमलनाथ से सीएम पद से इस्तीफा दे दिया. उन्होंने बीजेपी पर लोकतांत्रिक मूल्यों की हत्या करने के आरोप लगाया.


भोपाल: बीजेपी नेता शिवराज सिंह चौहान ने शुक्रवार को कांग्रेस नेता कमलनाथ से उनके आवास पर मुलाकात की. इस मुलाकात की तस्वीर में दोनों नेता मुस्कुराते हुए नजर आ रहे हैं. बता दें कि गुरुवार को कलमनाथ ने बहुमत परीक्षण से पहले इस्तीफा दे दिया था. वहीं खबर है कि मध्य प्रदेश बीजेपी के विधायक दल की बैठक आज हो सकती है.


गौरतलब है कि शुक्रवार को मध्य प्रदेश के सियासी संग्राम में आखिर कांग्रेस को हार का सामना करना पड़ा. सीएम कमलनाथ ने शुक्रवार को मुख्यमंत्री निवास पर प्रेस कॉन्फ्रेंस कर अपना इस्तीफा देने की घोषणा की. इस दौरान कमलनाथ ने बीजेपी पर लोकतांत्रिक मूल्यों की हत्या करने का आरोप लगाया.


भावुक हो गए कमलनाथ


कमलनाथ ने कहा कि किस प्रकार से बीजेपी के द्वारा करोड़ों खर्च कर यह खेल खेला गया पूरा प्रदेश यह देख रहा है. ज्योतिरादित्य सिंधिया पर निशाना साधते हुए कहा कि एक महाराज के साथ कुछ लोभी विधायकों ने यह खेल खेला. भावुक होते हुए कमलनाथ ने कहा मेरा क्या कसूर था मेरी क्या गलती थी. कमलनाथ ने कहा जब में केंद्र में था तब मैने प्रदेश की बहुत मदद की. मुझे जनता ने 5 साल का मौका दिया था प्रदेश को नए रास्ते मे लाने के लिए. मेरा क्या कसूर था मैंने हमेशा विकास में विश्वास रखा.


कमलनाथ ने कहा कि एक तथाकथित महाराज जिन्हें जनता नकार चुकी है और 22 लोभियों ने मिलकर बीजेपी के साथ खेल रच लोकतांत्रिक मूल्यों की हत्या की. प्रेस कांफ्रेंस करने के तुरंत बाद कमलनाथ ने राजभवन पहुंचकर राज्यपाल को इस्तीफा सौंप दिया.


सबसे बड़ी पार्टी बन गई बीजेपी


कांग्रेस के सभी 22 बागियों के इस्तीफे स्वीकार होने के बाद संख्या बल में बीजेपी सबसे बड़ी पार्टी बन गई है. उसके 106 विधायक हैं. वहीं, कांग्रेस के पास स्पीकर समेत सिर्फ 92 विधायक रह गए हैं. कांग्रेस के पास निर्दलीय और बीएसपी-एसपी के 7 विधायकों का भी समर्थन है