सिंधिया व उनके ट्रस्ट के खिलाफ EOW में शिकायत, जमीन खरीदी मे हेराफेरी का है मामला

6 साल बाद फिर शिकायत, 


इस मामले में पहले भी हो चुकी है जांच 


राजनेतिक षड्यंत्र के तहत आज हुई शिकायत


भोपाल ।  राजधानी में आज एक जमीन के पुराने  मामले में  ज्योतिरादित्य सिंधिया के खिलाफ आर्थिक अपराध शाखा मुख्यालय में  धोखाधड़ी की शिकायत की गई है । जिस पर  सुनवाई हेतु संज्ञान में लेकर जांच के आदेश किये गए हैं।प्राप्त जानकारी अनुसार शिकायतकर्ता सुरेंद्र श्रीवास्तव ने ईओडब्ल्यू मुख्यालय में आवेदन में बताया है कि महलगांव में खसरा नंबर 916 को खरोदने उपरांत दस्तावेजो में  हेराफेरी कर 6000 फिट जमीन कम कर दी गई है। दूसरा मामला महलगांव सिंधिया ट्रस्टी द्वारा महलगांव की शासकीय भूमि सर्वे क्रमांक 1217 को प्रशासन के साथ मिलकर बेचने कि शिकायत की गई जिसकी जांच हेतु आवश्यक कारवाही आवेदन लिया गया है। इस मामले की शिकायत 2014  में भी की गई थी जांच उपरांत बंद कर दी गई थी ।जांच में कोई त्रुटि नहीं पाई गई थी। लेकिन अब फिर जांच के लिए आवेदन दिया गया है।


पूरा मामला राजनीतिक,


आज जिस मामले में ज्योतिरादित्य सिंधिया के खिलाफ शिकायत की गई है वह स्वयं ही राजनीतिक प्रेरीत है। असल सीधा सा  मामला है किजब उक्त प्रकरण में जांच हो चुकी है और उस मामले में  कुछ नहीं पाया गया ओर से बंद कर दिया गया था तो फिर आज यह शिकायत दोबारा क्यों सामने आई वह भी जब सिंधिया जी ने कांग्रेस छोड़ बीजेपी की सदस्यता लेने के दूसरे दिन ही दोबारा शिकायत की गई और जांच जरने के लिए कहा गया। सवाल उठता है कि इतने सालों से उक्त शिकायत कर्ता ने उस जांच को लेकर  कहीं शिकायत नहीं कि क्यों नहीं उठाया मामला। आज ही क्यों ।सीधी सी बात है कि यह पूरी तरह राजनेतिक प्रेरित है।सरकार अपनी खुन्नस शिकायत की आड़ में निकलना चाह रही है।