बारिश के बाद जम्मू में गिरा अधिकतम तापमान

(जी.एन.एस) ता. 29
जम्मू
जम्मू-कश्मीर में एक बार फिर मौसम ने करवट ली है। घाटी के पहाड़ी इलाकों में ताजा बर्फबारी और निचले इलाकों में बारिश होने की वजह से ठंड एक बार फिर बढ़ गई है। देर रात जम्मू में बारिश होने की वजह से अधिकतम तापमान में गिरावट आई है, जिसके बाद ठंडी हवाएं चलने से लोगों को एक बार फिर ठंड का एहसास होने लगा है। वहीं हालांकि खराब मौसम की वजह से हाइवे पर कोई असर नहीं पड़ा है। बता दें कि जम्मू-श्रीनगर नेशनल हाइवे पर वाहनों की आवाजाही फिलहाल जारी है। अधिकारियों का कहना है कि अगर बारिश से भूस्खलन की संभावना पैदा होती है तो वाहनों की आवाजाही को रोक दिया जाएगा।
मौसम विभाग की मानें तो अगले 24 घंटों के दौरान मौसम का मिजाज इसी तरह रहने का अनुमान है। शुक्रवार दोपहर बाद ही श्रीनगर में बूंदाबांदी शुरू हो गई थी। गुलमर्ग, सोनमर्ग, साधना टाप व अन्य उच्च पर्वतीय इलाकों में दो से छह इंच बर्फ की मोटी चादर बिछ गई है। रात से हो रही बारिश ने जम्मू में ठंड को बढ़ा दिया है। बीते दो दिनों में तापमान में हुई बढ़ौतरी होने के बाद लोगों ने गर्म कपड़े पहना बंद कर दिए थे, लेकिन रात से हो रही बारिश के बाद सर्दी बढ़ गई है। मौसम विज्ञान केंद्र श्रीनगर के अनुसार अभी कुछ दिनों तक पश्चिमी विक्षोभ का दबाव बना रहेगा। जम्मू में बादल छाए रहने के बाद बारिश और कश्मीर में बारिश बर्फबारी होने की संभावना है। बारिश और बर्फबारी के कारण माता वैष्णो देवी और कटरा के बीच चलने वाली हेलीकॉप्टर सेवा प्रभावित रही। लेकिन बैटरी कार सेवा के साथ भवन व भैरो घाटी के बीच पैसेंजर केवल कार सेवा सुचारु रही।