मध्य प्रदेश: मोटर साइकिल से इतनी प्याज ढोई कि सामने आ सकता है करोड़ों का घोटाला

भोपाल: मध्य प्रदेश में एक ऐसे घोटाले की भनक लगी है जिसमें जांच पूरी होते-होते करोड़ों का घपला सामने आ सकता है. एमपी में प्याज को लेकर बड़ा घोटाले का पर्दाफाश हो सकता है, जिसमें किसानों के नाम पर ली गई राशि हड़पी गई. यह घोटाला भावांतर योजना के अंतर्गत हुआ जिसमें किसानों से खरीदी गई प्याज की प्रक्रिया अब सवालों के घेरे में है.


दरअसल, जांच में यह पता लगा है कि फर्जी वाहनों के जरिए प्याज का ट्रांसपोर्टेशन बताया गया और भावांतर योजना के तहत करोड़ों की राशि हासिल कर ली गई. जांच में जिस तरह से प्याज का परिवहन हुआ है वो सवालों के घेरे में है क्योंकि जांच में सामने यह आया है कि मोटरसाइल और जेसीबी से किसानों की प्याज ढोई गई और एक दिन में 100 से ज्यादा फेरे लिए गए. गौरतलब है कि  2019 में कमल नाथ सरकार ने प्याज खरीदी के लिए 20 जिलों के लिए 116 करोड़ का प्रावधान करके किसानों के खाते में राशि पहुंचायी थी.