मध्यप्रदेश में कोरोना वायरस का कोई प्रकरण नहीं

विश्व स्वास्थ्य संगठन द्वारा नोवेल कोरोना वायरस (2019-nCov) महामारी के मद्देनजर अंतर्राष्ट्रीय जन-स्वास्थ्य आपातकाल घोषित किया गया है। मध्यप्रदेश में यद्यपि कोरोना वायरस का कोई प्रकरण नहीं पाया गया है, तथापि डब्लूएचओ की सलाह अनुसार प्रदेश में अलर्ट जारी किया गया है। मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ एवं लोक परिवार कल्याण स्वास्थ्य मंत्री श्री तुलसीराम सिलावट ने प्रदेश की जनता से कोरोना वायरस से बचाव के लिए सावधानी बरतने की अपील की है।


राज्य-स्तरीय कॉल सेन्टर 104 स्थापित


     स्वास्थ्य विभाग सहित संबंधित सभी को इसके बचाव एवं सावधानी के बारे में सभी आवश्यक उपाय तुरंत किए जाने के निर्देश दिए गए हैं। कोरोना वायरस बीमारी संबंधी जानकारी/सूचना आदि के लिए राज्य स्तर पर कॉल सेन्टर 104 स्थापित किया गया है। कॉल सेंटर में 30 ऑपरेटर्स कार्यरत हैं। सभी को प्रशिक्षण दिया जा चुका है।  


एयर पोर्ट पर स्क्रीनिंग की व्यवस्था


      प्रदेश में चीन से आने वाले यात्रिओं की एयर पोर्ट पर स्क्रीनिंग की व्यवस्था की गई है। एयर पोर्ट पर अंतर्राष्ट्रीय विमानों से आने वाले यात्रियों से स्व-घोषणा-पत्र भी भरवाए जा रहे हैं। विदेश मंत्रालय की सूचना पर चीन से आने वाले यात्रियों की निगरानी की जा रही है।