MP: सड़क हादसे में घायलों को निजी अस्पताल में मिलेगा मुफ्त इलाज, सरकार ने तैयार की ये स्कीम

भोपाल: मध्य प्रदेश में अब सड़क हादसे में घायल लोगों का इलाज मुफ्त में प्राइवेट अस्पतालों में भी हो सकेगा. कमलनाथ सरकार जल्द रोड एक्सिडेंट इंश्योरेंस स्कीम लॉन्च करने की तैयारी में है.


शुक्रवार को जनसंपर्क मंत्री पीसी शर्मा ने बताया कि सभी निजी अस्पतालों में हादसे में घायल लोगों को मुफ्त इलाज की सुविधा मिलेगी. ऐसे मामलों में इलाज का खर्च राज्य सरकार उठाएगी. योजना तैयार कर ली गई है और जल्द इसका फायदा आम लोगों को मिलने लगेगा. बता दें कि अब तक सड़क हादसों के घायलों को सरकारी अस्पतालों में निशुल्क इलाज की सुविधा दी जाती थी.


जानकारी के मुताबिक पायलेट प्रोजेक्ट के तहत यह स्कीम पहले पांच जिलों में चलाई जाएगी. भोपाल, इंदौर, छिंदवाड़ा, सतना और रीवा में बेहतर परिणाम आने के बाद इसे पूरे प्रदेश में लागू किया जाएगा.



घायलों की जान बचाने के लिए दुर्घटना के 24 से 46 घंटे के बीच विशेष प्रयास किए जाएंगे. इसमें सरकार प्रति घायल पर 30 से 60 हजार रुपए तक खर्च करेगी. इसके लिए जिले के बड़े निजी अस्पतालों के साथ करार किया जाएगा.


रोड एक्सिडेंट इंश्योरेंस करने वाली कंपनी का चयन तीन वर्ष के लिए किया जाएगा. इसके बाद मध्यप्रदेश रोड डेवलपमेंट कारपोरेशन दोबारा टेंडर जारी करेगा, टेंडर में न्यूनतम प्रीमियम लेने वाली कंपनी का चयन किया जाएगा. एमपीआरडीसी मुफ्त इलाज के लिए जिन अस्पतालों का रजिस्ट्रेशन करेगा उसकी सूची इंश्योरेंस कंपनी को भी उपलब्ध कराई जाएगी, जिससे कंपनी को घायलों के सर्वे और सत्यापन में किसी तरह की दिक्कत न हो.