राष्ट्रीय लता मंगेशकर सम्मान की खोई हुई गरिमा लौटाई

संस्कृति मंत्री डॉ. विजयलक्ष्मी साधौ ने आज इंदौर में पार्श्व गायिका सुश्री सुमन कल्याणपुर और संगीत निर्देशक श्री कुलदीप सिंह  को प्रतिष्ठित  राष्ट्रीय लता मंगेशकर सम्मान से अलंकृत किया। उन्होंने दोनों सम्मानित विभूतियों की उपस्थिति में इंदौर में आयोजित राष्ट्रीय लता मंगेशकर सम्मान समारोह का दीप प्रज्वलित कर शुभारंभ किया। मंत्री डॉ. साधौ ने कहा कि इस सम्मान को पूरी गरिमा देते हुए फिर से पुरानी परंपराएं शुरू की गई हैं। उन्होंने कहा कि भारत रत्न पार्श्व गायिका लता मंगेशकर की जन्म-स्थली इंदौर है इस कारण इस समारोह का विशेष महत्व है। राज्य सरकार ने पुरानी  खोई परम्पराओं को वापस लाकर इस प्रतिष्ठित राष्ट्रीय लता मंगेशकर सम्मान  समारोह को  नई ऊंचाई देकर गरिमा  लौटाई है।


संस्कृति, चिकित्सा शिक्षा और आयुष मंत्री डॉ. विजयलक्ष्मी साधौ ने पार्श्व गायिका सुश्री सुमन कल्याणपुर एंव संगीत निर्देशक श्री कुलदीप सिंह  की  प्रतिभा की सराहना की। राज्य स्तरीय सुगम संगीत स्पर्धा  के प्रतिभागियों में काफी प्रसन्नता देखी गई। इन सभी को पुरस्कार  और प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया।


उल्लेखनीय है कि संस्कृति विभाग म.प्र. सरकार के प्रतिष्ठित राष्ट्रीय लता मंगेशकर सम्मान के  लिए चयनित  विभूतियों को इंदौर में अलंकृत करने की  परंपरा रही है। मंत्री डॉ साधौ ने विधानसभा में भी बीते साल घोषणा की थी कि यह समारोह भव्य रूप में होगा। कुछ साल पहले एक छोटे से कक्ष में यह समारोह सिमट गया था।


 संस्कृति मंत्री डॉ विजयलक्ष्मी साधौ ने पार्श्व गायिका सुश्री सुमन कल्याणपुर एंव संगीत निर्देशक श्री कुलदीप सिंह  की  प्रतिभा की सराहना की।इस अवसर पर लता मंगेशकर अलंकरण  समारोह के तहत   सात साल से अवरुद्ध राज्य स्तरीय सुगम संगीत स्पर्धा  के प्रतिभागियों में काफी प्रसन्नता देखी गई। इन सभी को पुरस्कार  और प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया ।