मथुरा में कोरोना वायरस की संदिग्ध मरीज की हुई मौत, डॉक्टर ने एम्स किया था रेफर

 



 उत्तर प्रदेश के मथुरा में खांसी से ग्रस्त मरीज युवती की मौत हो गई। डॉक्टर ने पर्चे में कोरोना वायरस के लक्षण की बात लिखी और इलाज के लिए दिल्ली एम्स रेफर कर दिया था।


कोरोना वायरस संदिग्ध युवती की मौत की खबर फैलते ही शहर के लोग दहशत में हैं। रेफर होने के बाद युवती को दिल्ली ले जाने की तैयारी परिजन कर ही रहे थे कि उसने दम तोड़ दिया।


रामकृष्ण मिशन अस्पताल के डॉक्टर ने युवती की जांच के बाद पर्चे में लिखा कि उसे सात दिन से खांसी हो रही थी और एक दिन पहले उठे पेट में दर्द के बाद गंभीर हालत में इमरजेंसी में भर्ती कराया गया था। युवती का ब्लड प्रेशर रिकॉर्ड नहीं हो पा रहा था। पर्चे में कोरोना वायरस का जिक्र है।


युवती के परिजन ने क्या कहा?


युवती के परिजन कपिल का कहना है कि कल अचानक उसकी तबीयत खराब हो गई थी। खांसी होने की वजह से उसे उल्टी हुई थी। घबराए परिजन उसे लेकर एक अस्पताल से दूसरे अस्पताल भागते रहे। मथुरा के सबसे बड़े अस्पताल रामकृष्ण मिशन में डॉक्टरों ने उसमें कोरोना वायरस का अंदेशा जताते हुए दिल्ली एम्स रेफर कर दिया।


युवती की हालत बिगड़ती चली गई और उसकी मौत हो गई। इस मौत के बारे में अभी सीएमओ या किसी जिम्मेदार अधिकारी ने प्रतिक्रिया नहीं दी है।